श्री अजय कुमार यादव,भा०पु०से०

श्री अजय कुमार यादव,भा०पु०से०

महानिरीक्षक,(संचार )

महानिरीक्षक का सन्देश

communication-hi संचार सेक्टर


संचार सेक्टर पूरे बल को संचार और सूचना प्रौधोगिकी  मदद  प्रदान करने के लिए उत्तरदायी है। मुख्य मदद बेतार प्रणाली से मिलती है जो समूचे संचार की रीढ़ है। परिचालन के समय एक मजबूत संचार प्रणाली सुरक्षा बलों को मजबूत स्थिति प्रदान करती है। नवीनतम रेडियो उपकरणों, रिपिटर्स, इंटरसेप्टर और अन्य उपकरणों से सुसज्जित एक मजबूत संचार प्रणाली पूरे देश में फैली विभिन्न संरचनाओं को जोड़ने में मदद करती है और जानकारी को तुरंत पहॅुचाती है। वर्तमान संचार प्रणाली ने उच्च कार्यालयों को वास्तविक समय मे क्षेत्र विशेष की प्रभावशाली निगरानी करने में मदद की है। वर्तमान तकनीक विभिन्न स्तरों पर ध्वनि , डेटा और वीडियो के लिए सुरक्षित कनेक्टिविटी का अधिकतम लाभ पहॅुचा सकती है।

        बलों की परिचालन क्षमता को मजबूत करने के लिए यह संगठन यू00वी0 के उपयोग में अग्रणी है ।  यू00वी0 बल गुणक है और परिचालन दक्षता को बढ़ाने के साथ-साथ शिविर सुरक्षा लागू करने और विभिन्न प्रकार की ड्यूटी के दौरान सुरक्षा प्रदान करने में अच्छा काम करता है। आने वाले समय में यू00वी0 का बढ़ता बेड़ा निश्चित  रूप से बलों को अत्याधुनिक बनाएगा।

        यह सेक्टर सभी बटालियनों और कार्यालयों को सूचना प्रौधोगिकी  संबंधी मदद प्रदान करने के लिए भी उत्तरदायी है। यह संगठन के सेलो नामक इंट्रानेट की सेवा बनाए रखता है। वर्तमान में सेलो मानव संसाधन, वेतन रोल, सूची प्रबंधन, सी.आर.पी.एफ. मेल और वित्त में माड्यूल चला रहा है। सूचना प्रौधोगिकी शाखा विभिन्न शाखाओं और कार्यालयों के लिए एप्लीकेशन विकसित करने के लिए भी उत्तरदायी है। यह ई-ऑफिस के कार्यान्वयन के साथ पेपरलेस (ऑफिस कागजविहीन  कार्यालय) की ओर अग्रसर है। आने वाले महीनों में सभी स्थानों पर सेलो-2 परियोजना के कार्यान्वयन एंव बुनियादी ढांचे के उन्नयन के साथ संगठन में सूचना प्रौधोगिकी उपयोग बहुत तेजी से बढ़ेगा।

        

 

"यह प्रौधोगिकी में विश्‍वास नहीं है, यह लोगों में विश्‍वास है जैसा कि एप्पल इंक के कोफाउंडर स्टीव जाब्स ने टिप्पणी की है। अतः इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि हम कौन से तकनीकों को अपनाते हैं या जो भी उपकरण/गैजेट्स हम उपयोग करते हैं, असली फायदा सही समय पर उचित उपयोग में है और मुझे उम्मीद है कि हमारे जवान इन उपकरणों का सर्वोत्तम उपयोग करते है।

                                                                                                                         

  जय हिंद



Go to Navigation