CIAT-Shivpuri शिवपुरी

देश मे सीआरपीएफ़ के  एक महत्वपूर्ण प्रशिक्षण संस्थान,नक्सल विरोधी और प्रतिविद्रोहिता स्कूल (CIAT), जंगली योद्धाओं का घर, जो कि मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले में स्थित है, के वेबपेज पर आपका स्वागत करते हुए मुझे असीम आनंद की अनुभूति मिल रही है। मुझे खुशी है कि आपने हमारे वेबपेज़ को देखने के लिए समय निकाला और गौरवपूर्ण धरोहर और शैक्षणिक तथा प्रकर्ष नेतृत्व के बारे मे समझा।

      मैं अपने आप को इस संस्थान का, जो कि के0रि0पु बल के एक श्रेष्ठ प्रशिक्षण संस्थान है, नेतृत्व करते हुए गौरवान्वित और सम्मानित महसूस करता हूँ । बहुत ही कम समय के अंतराल में इस संस्थान ने प्रशिक्षण के क्षेत्र में बहुत कुछ हासिल किया है । यह बताते हुए मुझे गर्व होता है कि 2009 में इस संस्थान के आरंभ होने से अब तक तीन बार इसे सर्वोतम प्रशिक्षण संस्थान के रूप मे चुना गया । इस उपलब्धि का आलिंगन संभव होने का प्रमुख कारण  इस संस्थान के सभी कार्मिकों  के  द्वारा समर्पित कठिन परिश्रम है, जिंन्होने हमेशा अपना श्रेष्ठ दिया है । मैं उन सभी  कार्मिको को हार्दिक बधाई देता हूँ जिन्होने अपना मूल्यवान योगदान देकर इस संस्थान को  आदर और अद्वितीय सम्मान  के मंच पर पहुंचाया ।

     गीता से उद्धृत आदर्श वाक्य "युद्धस्व जेतासि रणे सप्तनान (भगवतगीता-पाठ-11-श्लोक-34) को नमन करते  हुए जिसमे भगवान श्रीकृष्ण अर्जुन को निर्देश देते हैं कि – "जाओ युद्ध करो, तुम दुश्मनों (बुराई) के विरुद्ध युद्ध में विजय प्राप्त करोगे”, इस संस्थान में प्रशिक्षणार्थियों को उत्तरोत्तर युक्तिपूर्ण रूप से विकसित एवं प्रोत्साहित किया जाता है ताकि शांति व्यवस्था स्थापित करने हेतु तथा दीर्घ काल तक इसे बरकरार रखने हेतु वे अपना प्रभावशाली योगदान दे सकें।

     CIAT स्कूल मे  हम निष्ठापूर्वक यह सुनिश्चित करते हैं कि प्रशिक्षु उन सभी ज्ञान और कौशल में प्रवीण हो जो आंतरिक सुरक्षा चुनौतियों विशेषतः नकसलवाद को सफलता पूर्वक सामना करने मे आवश्यक है । इस पाठयक्रम के दौरान छोटे कुतर/व्यास वाले हथियार, विशिष्ट हथियार, मैप रीडिंग, भूमि कला, परिचालनिक युक्तियाँ, नेविगेसन यंत्र, जियोग्राफिकल सूचना पद्धति, जंगल सरवाइवल आदि में प्रशिक्षित किया जाता है। आधुनिक उपकरणो का उपयोग कर इस संस्थान ने डिजिटलाइजेशन का एक उदाहरण स्थापित किया है ।

      मैं इस संस्थान के उज्जवल भविष्य की कामना करता हूँ जो कि विकास रोधी आत्म संतुष्टि को अस्वीकार करता है। प्रशिक्षण प्रणाली में गुणवत्ता एवं प्रभावशालिता के अनुक्रमवार विकास हेतु प्रस्तावित बदलाव एवं सुझाव का यह संस्थान हार्दिक स्वागत करता है ।

     मैं अपने संदेश को सुप्रसिद्ध कवि रोबर्ट फ़्रोस्ट की पंक्तियों के साथ समाप्त करना चाहूंगा जो सीआइएटी स्कूल को श्रेष्टता की और बढ़ने के लिए निर्देशित करती है।

           

"The woods are lovely, dark and deep,

    But I have promises to keep,

    And miles to go before I sleep,

    And miles to go before sleep.”

 

                        ( मूल चंद पँवार, पीएमजी )

                 पुलिस महानिरीक्षक/प्राचार्य, सीआईएटी स्कूल,

                       केरिपुबल,शिवपुरी (म॰ प्र॰)

 

 

 


Go to Navigation